/
लोगों की राय

धर्म एवं दर्शन

भारत में ईसाई धर्म-प्रचारतंत्र

अरुण शौरी

मूल्य: Rs. 400

भारत में ईसाई धर्म-प्रचारतंत्र   आगे...

जैन धर्म एवं दर्शन

महेश चन्द्र श्रीवास्तव

मूल्य: Rs. 500

जैन धर्म एवं दर्शन   आगे...

श्री रामायण महान्वेषणम्: खंड 1-2

एम वीरप्पा मोइली

मूल्य: Rs. 1600

‘अतीत के दीपक से वर्तमान को प्रकाशित करने का प्रयत्न है ‘श्री रामायण महान्वेषणम्’।’   आगे...

मार्क्सवाद और भाषा का दर्शन

वी. एन. वोलोशिनोव

मूल्य: Rs. 295

1929 में प्रकाशित वी.एन. वोलोशिनोव की पुस्तक मार्क्सवाद और भाषा का दर्शन पहली ऐसी पुस्तक थी जिसमें भाषा-विज्ञान के कुछ प्रमुख आधारभूत प्रश्नों पर मार्क्सवादी विश्व-दृष्टिकोण और पद्धति से विचारकरने का प्रयास दिखाई देता है।   आगे...

लोकायत

देवीप्रसाद चट्टोपाध्याय

मूल्य: Rs. 850

यह पुस्तक इतिहास, दर्शन, भारतीय साहित्य और संस्कृति में दिलचस्पी रखनेवाले जिज्ञासुओं के लिए समान रूप से उपयोगी है।   आगे...

हिन्दू होने का धर्म

प्रभाष जोशी

मूल्य: Rs. 750

हिंदू होने का धर्म बाबरी ध्वंस के बाद और गुजरात नरसंहार तक ‘जनसत्ता’ में लिखे गए प्रभाष जोशी के सैकड़ों लेखों-स्तंभों में से एक चयन है   आगे...

देवतुल्य नास्तिक

अरुण भोले

मूल्य: Rs. 350

विश्व संस्कृति की अन्तर्धाराओं का प्रवाहपूर्ण, प्रामाणिक और सतर्क विश्लेषण।   आगे...

भारतीय दर्शन: सरल परिचय

देवीप्रसाद चट्टोपाध्याय

मूल्य: Rs. 550

भारत जैसे बहुभाषी, सामासिक समाज में राष्ट्रीय मानस को समझने के लिए भारतीय दर्शन का अनुशीलन आवश्यक है।   आगे...

बहुधा और 9/11 के बाद की दुनिया

बाल्मीकि प्रसाद सिंह

मूल्य: Rs. 550

कई विषय-क्षेत्रों में एक साथ विचरण करनेवाली यह कृति विद्यार्थियों, विद्वानों और इतिहास, दर्शन, राजनीति तथा अन्तर्राष्ट्रीय सम्बन्धों के शोधार्थियों के लिए समान रूप से रुचिकर साबित होगी।   आगे...

अरण्यपंथा

पं. संजय तिगनाथ

मूल्य: Rs. 250

अरन्यपन्था' अरन्यपन्था में वे समस्त मौलिक दुविधाएँ अंतर्निहित हैं जो ज्ञान के गहन प्रांतरों में विद्यमान हैं,   आगे...

 

 1 2 3 >  Last ›  View All >> इस संग्रह में कुल 232 पुस्तकें हैं|