Chitra Mudgal/चित्रा मुदगल
लोगों की राय

लेखक:

चित्रा मुदगल

जीवन परिचय : 10 दिसम्बर 1944 को चेन्नई में जन्मी और मुंबई में शिक्षित चित्रा मुद्गल आधुनिक कथा-साहित्य की बहुचर्चित, सम्मानित, और प्रतिनिधि रचनाकार हैं। प्रखर चेतना की संवाहिका चित्रा जी के पास अनुभवों का विपुल भंडार है। उन्होंने समाज के विभिन्न समुदायों, विशेषकर दलित-शोषितों के बीच पैठ कर काम किया है। आंदोलनमुखी संगठनों से इनका गहरा नाता है। इनकी मान्यता है कि सामाजिक परिवर्तनों की दिशा में आंदोलनों की निर्णायक भूमिका है।

दूरदर्शन के टेलीफिल्म ‘वारिस’ का निर्माण तो चित्रा जी ने किया ही है, प्रसिद्ध कहानियों पर आधारित ‘एक कहानी’, ‘मंझधार’, ‘रिश्ते’ सरीखे धारावाहिकों में इनकी अनेक कहानियां सम्मिलित हुई हैं। चित्रा जी की अनेक कहानियों पर टेलीफिल्मों का निर्माण भी हुआ है। समकालीन यथार्थ को वह जिस अद्भुत भाषिक संवेदना के साथ अपनी कथा-रचनाओं में परत-दर-परत अनेक अर्थछवियों में अन्वेषित करती हैं, वह चकित कर देने वाला है। अब तक चित्रा मुद्गल के 13 कहानी संग्रह, पांच संपादित पुस्तक और दो वैचारिक संकलन प्रकाशित हो चुके हैं।

पुरस्कार : इन्हें बहुचर्चित उपन्यास ‘आवां’ पर सहस्राब्दि का पहला अंतर्राष्ट्रीय ‘इन्दु शर्मा कथा सम्मान’ लंदन (इंग्लैंड) में पाने का गौरव प्राप्त हुआ। चित्रा जी को बिड़ला फाउंडेशन का ‘व्यास सम्मान’, ‘हिंदी अकादमी, दिल्ली का ‘साहित्यकार सम्मान’, ‘विकास’ काया फाउंडेशन द्वारा सामाजिक कार्यों के लिए ‘विदुला सम्मान’ और उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान द्वारा ‘साहित्य भूषण सम्मान’ से समलंकृत किया गया है।

संप्रति :- प्रसार भारती बोर्ड, भारत सरकार की सदस्या एवं प्रसिद्ध समाज सेविका।

कृतियाँ :

उपन्यास :- आवां, गिलिगडु, एक जमीन अपनी।

कहानी-संग्रह : लपटें, बयान - ( (गरीब की माँ, बयान, डोमिन काकी, आतंकवाद, पहचान, ऐब, राक्षस, गणित, मिट्टी, नाम, गली, रिश्ता, शहर, सेवा, सेवक, रक्षक-भक्षक, बोहनी, व्यावहारिकता, पत्नी, पाठ, मानदण्ड, बाज़ार प्राथमिकता, नसीहत, मर्द, भूखे-नंगे, दूध, धर्म, घर।), भूख : (भूख, लेन, चेहरे, फातिमाबाई कोठे पर ही नहीं रहती, इस हमाम में, ब्लेड, जरिया, वाइफ स्वैपी, होना संपादक की पत्नी—एक लेखिका का, बंद।), मामला आगे बढ़ेगा अभी : (मामला आगे बढ़ेगा अभी, अग्निरेखा, शिनाख्त हो गई है, पाली का आदमी, त्रिशंकु, लाक्षागृह, अपी वापसी, लिफाफा, गर्दी, शून्य, दरमियान, मोरचे पर।), दस प्रतिनिधि कहानियाँ : (गेंद, लेन, जिनावर, जगदंबा बाबू आ रहे हैं, भूख, प्रेतयोनि, बलि, दशरथ का वनवास, केंचुल, बाघ।), लकड़बग्घा : (प्रमोशन, सौदा, अभी भी, जगदंबा बाबू आ रहे हैं, लकड़बग्घा, मुआवज़ा, बेईमान, ट्रेन छूटने तक, ताशमहल, सफेद सेनारा।), इस हमाम में, ग्यारह लंबी कहानियाँ, जहर ठहरा हुआ, लाक्षागृह, अपनी वापसी, मेरी रचना यात्रा, जगदंबा बाबू गाँव आ रहे हैं, जानवर।

बाल-साहित्य : देश-देश की लोक कथाएँ, माधवी-कन्नगी (उपन्यास), सबक, जंगल का राज, नीति कथाएँ (कहानी-संग्रह)

नाट्य रूपांतरण : बूढ़ी काकी तथा अन्य नाटक, पंच परमेश्वर तथा अन्य नाटक, सद्गति तथा अन्य नाटक।

संपादन : दूसरी औरत की कहानियाँ, असफल दांपत्य की कहानियाँ, टूटते परिवारों की कहानियाँ।

10 प्रतिनिधि कहानियाँ (चित्रा मुदगल)

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 240

चित्रा मुदगल के द्वारा चुनी हुई दस सर्वश्रेष्ठ कहानियाँ...   आगे...

आदि-अनादि ( 3 भाग)

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 1500

  आगे...

आवां

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 795

बीसवीं सदी के अंतिम प्रहर में एक मजदूर की बेटी के मोहभंग, पलायन और वापसी के माध्यम उपभोक्तावादी वर्तमान समाज को कई स्तरों पर अनुसंधानित करता, निर्ममता से उधेड़ता, तहें खोलता, चित्रा मुदगल का सुविचारित उपन्यास आवां’ अपनी तरल, गहरी संवेदनात्मक पकड़ और भेदी पड़ताल के आत्मलोचन के कटघरे में ले, जिस विवेक की मांग करता है-वह चुनौती झेलता क्या आज की अनिवार्यता नहीं   आगे...

एक जमीन अपनी

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 55

विज्ञापन की उस दुनिया की कहानी जहां समाज की इच्छाओं को पैना करने के औजार तैयार किए जाते हैं...

  आगे...

गिलिगडु

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 150

आज के बदलते जीवन मूल्यों पर आधारित उपन्यास   आगे...

गेंद और अन्य कहानियाँ

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 135

चित्रा मुद्गल का यह कहानी संग्रह बच्चों के मन की कोरी स्लेटों पर बनती-बिगड़ती इबारतों का ऐसा दस्तावेज़ है   आगे...

चर्चित कहानियाँ - चित्रा मुद्गल

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 150

  आगे...

चित्रा मुद्गल संकलित कहानियां

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 80

चित्राजी की कहानियों का एक विशिष्ट चयन...   आगे...

जगदम्बा बाबू गाँव आ रहे हैं

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 199

  आगे...

तहखानों में बंद अक्स

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 300

सुपरिचित वरिष्ठ कथाकार-विचारक चित्रा मुद् गल की एक नई कृति...   आगे...

देश देश की लोककथाएँ

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 30

प्रस्तुत है विभिन्न देशों की प्रसिद्ध लोककथाएँ...   आगे...

नकटौरा

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 595

  आगे...

पंच परमेश्वर तथा अन्य नाटक

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 110

प्रेमचन्द्र की कहानियों की हिन्दी नाट्य रूपान्तर....   आगे...

पेन्टिंग अकेली है.....

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 250

  आगे...

पोस्ट बॉक्स नं. 203 - नाला सोपारा

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 495

  आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ: चित्रा मुदगल

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 195

चित्रा मुद्गल जीवन के छोटे-छोटे प्रसंगों को चुनती हैं, उनमें व्याप्त तनाव को परखती हैं, उन्हें सामाजिकता के व्यापक धरातल पर ला खड़ा करती हैं।   आगे...

बयान

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 70

प्रस्तुत है श्रेष्ठ कहानी संग्रह बयान...   आगे...

बयार उनकी मुट्ठी में

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 150

  आगे...

बूढ़ी काकी तथा अन्य नाटक

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 110

प्रेमचन्द्र की कहानियों का हिन्दी नाट्य-रूपान्तर   आगे...

भूख

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 125

प्रस्तुत है श्रेष्ठ 10 कहानियों का संग्रह...   आगे...

मामला आगे बढ़ेगा अभी

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 100

प्रस्तुत है श्रेष्ठ कहानी संग्रह...   आगे...

लकड़बग्घा

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 60

नारी-अस्मिता और मानवीय विकास से जुड़े मामलों पर रचनात्मक लेखनुमा कहानी संग्रह   आगे...

लपटें

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 90

प्रतिष्ठित कथाकार चित्रा मुदगल की कहानियों का संग्रह...   आगे...

लाक्षागृह

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 250

  आगे...

शून्य

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 250

  आगे...

सद्गति तथा अन्य नाटक

चित्रा मुदगल

मूल्य: Rs. 125

प्रेमचन्द्र की कहानियों का हिन्दी नाट्य रूपान्तर...   आगे...

 

  View All >>   26 पुस्तकें हैं|