Mamta Mehrotra/ममता मेहरोत्रा
लोगों की राय

लेखक:

ममता मेहरोत्रा
ममता मेहरोत्रा पटना के डीएवी पब्लिक स्कूल की शासकीय अध्यक्षा हैं। वे समाज में महिलाओँ की स्थिति में सुधार के लिए संघर्ष करती रही हैं। घर के अंदर परिवार में होने वाली हिंसा के विरोध में आपने अशासकीय माध्यमों से काम किया है। इनकी कहानियाँ कादम्बनी और अन्य स्थानीय समाचार पत्रों में छपती रही है। सामाजिक परिवेष तथा वर्तमान संदर्भ जैसी पत्रिकाओं का संपादन भी आपने किया है। इसके अतिरिक्त मानवाधिकारों के लिए आप गणादेश में भी लिखती रही हैं।

आपके रचनाओं पर लिखित एक शोधार्थी को पाण्डित्य की उपाधि भी प्रदान की गई है। यह शोध आगामी काल में 8 भाषाओं में छपने वाला है। ममता जी ने कक्षा 1 से 9 तक के विद्यार्थियों के लिए पाठ्य पुस्तकें भी लिखी हैं। इनकी लिंग-भेद पर हिन्दी व अंग्रेजी में कई पुस्तकें छप चुकी हैं।

टाइम मैनेजमेंट फॉर स्टू़डेन्ट्स

ममता मेहरोत्रा

मूल्य: Rs. 250

समय का सदुपयोग सबके लिए आवश्यक है, परंतु छात्रों को जीवन में बहुत कुछ करना होता है और उसके लिए चाहिए समय   आगे...

महिला अधिकार

ममता मेहरोत्रा

मूल्य: Rs. 300

सती प्रथा, डायन, विज्ञापन, मातृत्व, द्विविवाह, दहेज आदि पक्षों पर तर्कपूर्ण विचार करते हुए लेखिका ने इनके अनेक पक्षों का वर्णन किया है   आगे...

 

  View All >>   2 पुस्तकें हैं|