Pardeshi Ram Verma/परदेशीराम वर्मा
लोगों की राय

लेखक:

परदेशीराम वर्मा

बुधिया की तीन रातें

परदेशीराम वर्मा

मूल्य: Rs. 150

14 कहानियों का संग्रह...

  आगे...

हैसियत

परदेशीराम वर्मा

मूल्य: Rs. 8

आमगांव ही अब रामसिंह का अपना गांव है। गया से उनके पिताजी यहां आए थे। यहीं रामसिंह का जन्म हुआ। आमगांव के तालाबों में तैरकर वह बड़ा हुआ। आम चूसकर तगड़ा बना।   आगे...

 

  View All >>   2 पुस्तकें हैं|