Vishnu Khare/विष्णु खरे
लोगों की राय

लेखक:

विष्णु खरे

जन्म : 9 फरवरी, 1940, छिंदवाड़ा (मध्य प्रदेश)।

शिक्षा : क्रिश्चियन कॉलेज, इंदौर से 1963 में अंग्रेजी साहित्य में एम.ए.।

प्रकाशित कृतियाँ : ‘खुद अपनी आँख से’, ‘पिछला बाक़ी’, ‘सब की आवाज़ के पर्दे में’, ‘काल और अवधि के दरमियान’, ‘लालटेन जलाना’, ‘कवि ने कहा’, ‘पाठांतर’, ‘प्रतिनिधि कविताएँ’ एवं ‘और अन्य कविताएँ’।

अशोक वाजपेयी द्वारा ‘पहचान’ सीरीज़ (1970) की शुरुआत ‘विष्णु खरे की बीस कविताएँ’ से।

मरु-प्रदेश और अन्य कविताएँ (टी.एस. एलियट की कविताओं का अनुवाद), गोएठे का काव्य-नाटक ‘फाउस्ट’, फ़िनी महाकाव्य ‘कालेवाला’, एस्टोनियाई महाकाव्य ‘कलेवीपोएग’, डच उपन्यासकार-द्वय सेस नोटेबोम और हरी मूलिश की कृतियों का अनुवाद।

लोठार लुत्से के साथ हिंदी कविता के जर्मन अनुवाद ‘डेअर ओक्सेनकरेन’ का संपादन।

नवभारत टाइस्स में सैकड़ों संपादकीय, लेख, फिल्म समीक्षाएँ, अंग्रेजी में दि पायनियर, दि हिंदुस्तान टाइम्स, फ्रंटलाइन में फिल्म तथा साहित्य पर लेखन।

पुरस्कार : फिनलैंड का राष्ट्रीय ‘नाइट ऑफ दि ऑर्डर ऑफ दि व्हाइट रोज’ सम्मान, रघुवीर सहाय सम्मान, शिखर सम्मान, हिंदी अकादमी, दिल्‍ली का साहित्य सम्मान, मैथिलीशरण गुप्त सम्मान।

निधन : 19 सितंबर, 2018।

और अन्य कविताएं

विष्णु खरे

मूल्य: Rs. 300

एक अनोखा प्रयोग विष्णु खरे की मिथकीय और ऐतिहासिक कविताओं में देखा जा सकता है   आगे...

प्रतिनिधि कविताएं: विष्णु खरे

विष्णु खरे

मूल्य: Rs. 75

विष्णु खरे एक विलक्षण कवि हैं—लगभग लासानी। एक ऐसा कवि जो गद्य को कविता की ऊँचाई तक ले जाता है और हम पाते हैं कि अरे, यह तो कविता है!   आगे...

सेतु समग्र : कविता विष्णु खरे

विष्णु खरे

मूल्य: Rs. 520

  आगे...

 

  View All >>   3 पुस्तकें हैं|