जन्मदिन के उपहार - गीतांजली प्रसाद Janmadin Ke Uphaar - Hindi book by - Gitanjali Prasad
लोगों की राय

चिल्ड्रन बुक ट्रस्ट >> जन्मदिन के उपहार

जन्मदिन के उपहार

गीतांजली प्रसाद

प्रकाशक : सी.बी.टी. प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2011
पृष्ठ :12
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 10019
आईएसबीएन :9788170113768

Like this Hindi book 0

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

चिंकी और बबलू को बहुत बुरा लग रहा था। ‘‘कल जब हम मां को ‘हैपी बर्थडे’ कहेंगे तो साथ में क्या देंगे ? कुछ भी नहीं,’’ बबलू ने दुखी स्वर में कहा।

अगले दिन उनकी मां का जन्मदिन था। उनके पिता दौरे पर थे इसलिए दावत का सवाल ही नहीं था। न केक कटेगा और न उपहार होंगे।

लोगों की राय

No reviews for this book