खुली आँखों का सपना - आरती पाण्ड्या Khuli Ankhon Ka Sapna - Hindi book by - Arti Pandya
लोगों की राय

नई पुस्तकें >> खुली आँखों का सपना

खुली आँखों का सपना

आरती पाण्ड्या

प्रकाशक : लोकभारती प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2017
पृष्ठ :120
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 10176
आईएसबीएन :9789352210961

Like this Hindi book 0

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

प्रस्तुत पुस्तक ‘खुली आँखों का सपना’ एक काल्पनिक उपन्यास है। इस उपन्यास की कहानी एक मध्यमवर्गीय परिवार की माँ के इर्दगिर्द घूमती है जिसे अपने बेटे के लिए बहू खोजने के चक्कर में किन-किन समस्याओं और विषम परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है। इस गम्भीर समस्या को हास्य का ऐसा चोला पहनाने का प्रयास लेखिका द्वारा किया गया है कि पाठकगण हँसने को मजबूर हो जायेंगे। उपन्यास में सरल, सारर्गिभत व उत्कृष्ट भाषा का प्रयोग किया गया है। जो जनसाधारण के लिए उपयुक्त है। निश्चय ही पाठक जब इस उपन्यास को पढ़ना शुरू करेंगे तो अन्त तक पढ़ने को विवश हो जायेंगे।

लोगों की राय

No reviews for this book