Tattvarthasar - Hindi book by - Muni Amitsagar - तत्त्वार्थसार (संस्कृत, हिन्दी) - सम्पा. आचार्य अमृतचन्द्र
लोगों की राय

धर्म एवं दर्शन >> तत्त्वार्थसार (संस्कृत, हिन्दी)

तत्त्वार्थसार (संस्कृत, हिन्दी)

सम्पा. आचार्य अमृतचन्द्र

प्रकाशक : भारतीय ज्ञानपीठ प्रकाशित वर्ष : 2010
पृष्ठ :350
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 10330
आईएसबीएन :9788126318797

Like this Hindi book 0

आचार्य उमास्वामी का 'तत्त्वार्थसूत्र' जिनशासन का महान ग्रन्थ है…

आचार्य उमास्वामी का 'तत्त्वार्थसूत्र' जिनशासन का महान ग्रन्थ है। जैन जगत में यह इतना लोकप्रिय हुआ कि इस पर वृत्ति, वार्तिक एवं भाष्य के रूप में लगभग एक दर्जन टीका-ग्रन्थ लिखे गए हैं। आध्यात्मिक आचार्य अमृतचन्द्र सूरी (10वीं शती) की प्रस्तुत कृति 'तत्त्वार्थसार' है जो संस्कृत में है। ग्रन्थ के महत्व को देखते हुए मुनिश्री अमितसागर जी ने प्रस्तुत ग्रन्थ की भावानुगामिनी विस्तृत हिंदी टीका लिखकर कृतिकार के मूल भाव को वर्तमान परिवेश देने का प्रयास किया है।

प्रथम पृष्ठ

लोगों की राय

No reviews for this book