सड़क की लय - सुषम बेदी Sadak Ki Laya - Hindi book by - Susham Bedi
लोगों की राय

नई पुस्तकें >> सड़क की लय

सड़क की लय

सुषम बेदी

प्रकाशक : प्रभात प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2017
पृष्ठ :168
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 12164
आईएसबीएन :9789384344689

Like this Hindi book 0

मानवीय संवेदना और सरोकारों से सराबोर ये पठनीय कहानियाँ

‘‘आप सचमुच जानना चाहती हैं?’’
मैं उसकी आँखों में झलकती दर्द की परछाइयों के बीच कुछ खोज रही थी।
‘‘कहीं आपकी हमदर्दी कम तो न हो जाएगी! मेरा बेटा था वह।’’
‘‘ओह? अच्छा। तो...?’’
‘‘अफ्रीकी-अमेरिकन से शादी की थी। मेरे साथ कॉलेज में थी। बहुत प्यार था हमारा। हमारे प्यार की संतान था वह!’’
निःशब्द थी मैं।
‘‘कैसे सहा होगा दोनों ने। एक मात्र संतान को इस तरह खो देना। एक बेकसूर, निर्दोष बच्चे का पुलिस के हाथों बलि चढ़ जाना!’’
‘‘अफसोस है मुझे। इतना कुछ घट गया आपके साथ, और आपकी पत्नी!
‘‘हाँ मेरी पत्नी!’’ उसने भरे गले से आह भरी। लगा अभी फूट पड़ेगा। उसे अपना दर्द सँभालना बेहद मुश्किल हो रहा था।
‘‘वह...वह...’’ और उससे आगे उसके मुख से कोई शब्द नहीं निकला। वह खामोश जमीन पर आँख गड़ाए बैठा रहा।
मेरी हिम्मत नहीं पड़ी कि उससे आगे कोई सवाल पूछूँ।
‘‘पगला गई थी वह!’’

—इसी संग्रह से
मानवीय संवेदना और सरोकारों से सराबोर ये पठनीय कहानियाँ पाठक के मन-मस्तिष्क को छू लेंगी।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book