गंदगी के महारथी - मनीष शर्मा Gandagi Ke Maharathi - Hindi book by - Manish Sharma
लोगों की राय

कहानी संग्रह >> गंदगी के महारथी

गंदगी के महारथी

मनीष शर्मा

प्रकाशक : प्रभात प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2018
पृष्ठ :184
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 12234
आईएसबीएन :9789386054890

Like this Hindi book 0

एक सवाल जो मुझसे बार-बार पूछा गया ‘किताब में या है ?’ जैसे फिशन है या नॉन फिशन है, कहानी है, व्यंग्य है ? एक शद में कहूँ तो किताब ‘रोचक’ है। नदी की तरह सभी को समेटकर बहती है। इसमें व्यंग्यात्मक कहानियों के जरिए गंदगी के महारथियों का परिचय कराया गया है। ये महारथी हमारे आसपास हैं, कुछ के अंश हमारे अंदर भी होंगे, उन्हीं से आधिकारिक परिचय कराना जरूरी था, योंकि बदलाव की पहली शर्त होती है जागरूकता।

दूसरा सवाल जिसे आपको जरूर पूछना चाहिए कि ‘किताब से मुझे या मिलेगा ?’ हास्य मिलेगा, अच्छी कहानी मिलेगी या कुछ और ? ये किताब आपको इन दोनों चीजों के साथ पैसे बचाने में मदद करेगी। ये आपको, आपके परिवार को और समाज को स्वस्थ रहने में मदद करेगी। बीमारियों पर होनेवाले खर्च को कम करेगी। गंदगी के महारथियों का मजाक उड़ाकर हास्य पैदा करना मकसद नहीं है, बल्कि किताब में समाधान भी है।

व्यंग्य का सत्य तभी सुंदर हो सकता है, जब उसमें समाज के लिए शिव की भावना हो। यह किताब सर्वे भवन्तु सुखिनः, सर्वे सन्तु निरामयाः की हमारी सनातन परंपरा की आधुनिक कड़ी है। किताब इस उम्मीद में लिखी गई है कि आप स्वस्थ रहें, आप खुश रहें।

लोगों की राय

No reviews for this book