सम्पूर्ण कहानियाँ फणीश्वरनाथ रेणु - फणीश्वरनाथ रेणु Sampurna Kahaniyan Phanishwarnath Renu - Hindi book by - Phanishwarnath Renu
लोगों की राय

कहानी संग्रह >> सम्पूर्ण कहानियाँ फणीश्वरनाथ रेणु

सम्पूर्ण कहानियाँ फणीश्वरनाथ रेणु

फणीश्वरनाथ रेणु

प्रकाशक : राजकमल प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2018
पृष्ठ :584
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 12434
आईएसबीएन :9788126719723

Like this Hindi book 0

सम्पूर्ण कहानियाँ फणीश्वरनाथ रेणु

फणीश्वरनाथ रेणु - वह लेखक जिसने हिन्दी कथाधारा का रुख बदला, उसे ग्रामीण भारत के बिम्बों और ध्वनियों से समृद्ध किया और हिन्दी गद्य की भाषा को कविता से भी ज्यादा प्रवहमान बनाया। उन्हीं रेणु की सम्पूर्ण कहानी सम्पदा को इस पुस्तक में प्रस्तुत किया जा रहा है। प्रेम, संवेदना, हिंसा, राजनीति, अज्ञानता और भावुकता के विभिन्न रूप और रंगों की ये कहानियाँ भारत के ग्रामीण अंचल की चेतना का प्रतिनिधित्व करती है और स्वातंत्रयोत्तर भारत का सांस्कृतिक आईना हैं। इन कहानियों में लेखक ने लोकभाषा, जनसाधारण के रोजमर्रा जीवन और परिवेश को जितने मांसल ढंग से व्यक्त किया है, उसने हिन्दी की ताकत और क्षमता को भी बढ़ाया है।

रेणु की 27 अगस्त, 1944 में प्रकाशित पहली कहानी ‘बट बाबा’ से लेकर नवम्बर, 1972 में प्रकाशित अन्तिम कहानी ‘भित्तिचित्र की मयूरी’ सहित विभिन्न संग्रहों में प्रकाशित उनकी कहानियों को यहाँ साथ लाया गया है ताकि पाठक अपने इस प्रिय लेखक को एक लय में पढ़ सकें।

प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book