काव्य भाषा पर तीन निबन्ध - रामस्वरूप चतुर्वेदी Kavya Bhasha Par Teen Nibandh - Hindi book by - Ram Swaroop Chaturvedi
लोगों की राय

भाषा एवं साहित्य >> काव्य भाषा पर तीन निबन्ध

काव्य भाषा पर तीन निबन्ध

रामस्वरूप चतुर्वेदी

प्रकाशक : लोकभारती प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2008
पृष्ठ :120
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 13173
आईएसबीएन :9788180312946

Like this Hindi book 0

पुस्तक में उन्हीं के लिखे हुए तीन निबंध संकलित हैं जिनकी हिन्दी आलोचना में प्रशंसा होती रही है

काव्य-भाषा संबंधी चिन्तन समकालीन आलोचना के केन्द्र में आ गया है। हिंदी में, इस विषय पर मौलिक दृष्टि से लिखी गयी पुस्तकें बहुत कम हैं। प्रख्यात आलोचक डॉ. रामस्वरूप चतुर्वेदी के आलोचनात्मक चिंतन का प्रमुख प्रतिमान काव्य-भाषा रही है। इस पुस्तक में उन्हीं के लिखे हुए तीन निबंध संकलित हैं जिनकी हिन्दी आलोचना में प्रशंसा होती रही है।
इस विषय पर इन निबंधों का ऐतिहासिक और वैचारिक महत्व है ।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book