सार्वजनिक अर्थशास्त्र - वी. सी. सिन्हा Public Economics - Hindi book by - V. C. Sinha
लोगों की राय

अर्थशास्त्र >> सार्वजनिक अर्थशास्त्र

सार्वजनिक अर्थशास्त्र

वी. सी. सिन्हा

प्रकाशक : लोकभारती प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2006
आईएसबीएन : 9788180310876 मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पृष्ठ :446 पुस्तक क्रमांक : 13260

Like this Hindi book 0

सार्वजनिक अर्थशास्र के सिद्धान्तों एवं विभिन्न पहलुओं का विश्लेषण सैद्धान्तिक एवं व्यावहारिक आधार पर किया गया है

प्रस्तुत संस्करण की उपयोगिता में बढ़ोतरी हेतु 'सार्वजनिक अर्थशास्‍त्र' को पूर्णतया परिशोधित किया गया है। आर्थिक सुधारों के वर्तमान दौर में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में जो एक नये आर्थिक परिवेश का निर्माण हो रहा है उनको ध्यान में रखते हुए सार्वजनिक अर्थशास्र के सिद्धान्तों एवं विभिन्न पहलुओं का विश्लेषण सैद्धान्तिक एवं व्यावहारिक आधार पर किया गया है। साथ ही पुस्तक को अधिकाधिक उपयोगी बनाने हेतु यह प्रयास किया गया है कि भारतीय लोक वित्त के अति जटिल किन्तु महत्वपूर्ण आयामों का विश्लेषणात्मक अध्ययन अति रुचिकर होने के साथ-साथ सभी पाठकवर्गों के लिए तर्काधार विचार संरचना करने में सहायक हो। आशा है यह संस्करण पाठकों को सर्वथा नवीनता लिए हुए प्रतीत होगा एवं आप वर्तमान संस्करण को पहले से कहीं अधिक अद्यतन, व्यापक, उपयोगी और रोचक पायेंगे।

अन्य पुस्तकें

To give your reviews on this book, Please Login