हिंदू धर्म: जीवन में सनातन की खोज - विद्यानिवास मिश्र Hindu Dharma : Jeevan Mein Sanatan Ki Khoj - Hindi book by - Vidhyaniwas Mishra
लोगों की राय

धर्म एवं दर्शन >> हिंदू धर्म: जीवन में सनातन की खोज

हिंदू धर्म: जीवन में सनातन की खोज

विद्यानिवास मिश्र

प्रकाशक : राधाकृष्ण प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2013
आईएसबीएन : 9788171190430 मुखपृष्ठ : सजिल्द
पृष्ठ :174 पुस्तक क्रमांक : 13488

Like this Hindi book 0

यह तो एक खोज है, सत्य का अन्वेषण है, जिसे निरन्तर जारी रहना है

जीवन में सनातन की खोज हिन्दू धर्म-दर्शन पर विवेचनापूर्ण विचारों का संकलन किया गया है इस कृति में। इसमें हिन्दू धर्म की व्याख्या नहीं है, बल्कि विद्यानिवास जी के भीतर वर्षों से उमड़ रही सोच की साफ़-सुथरी अभिव्यक्ति है। सनातनता का हिन्दू धर्म के सन्दर्भ में यहाँ परम्परागत अर्थ नहीं है। यह तो एक खोज है, सत्य का अन्वेषण है, जिसे निरन्तर जारी रहना है। यह पुस्तक उन सभी को सम्बोधित है, जो कहीं मन में यह पीड़ा पाले हुए हैं कि ऐसा हिन्दू होने से क्या हुआ, जो हमें मुसलमान कवि रसखान की अहीर की छोहरी न बना सका, जिसकी छछिया भर छाछ पर पूरी विश्व-सत्ता, पूरा विश्व-रससम्भार और पूरा विश्व-चैतन्य नाचने को बाध्य हो गया। हिन्दू धर्म का उदात्त भाव, समन्वय की क्षमता, उदारता से भरा-पूरा विराट स्वरूप ही मनुष्य के जीवन को आलोकमय बनाने के साधन हैं। यह पुस्तक सभी के लिए प्रीतिकर प्रमाणित होगी।

अन्य पुस्तकें

To give your reviews on this book, Please Login