Diabetes Ke Saath Jeene Ki Raah - Hindi book by - Yatish Agarwal - डायबिटीज के साथ जीने की राह - यतीश अग्रवाल
लोगों की राय

स्वास्थ्य-चिकित्सा >> डायबिटीज के साथ जीने की राह

डायबिटीज के साथ जीने की राह

यतीश अग्रवाल

प्रकाशक : राजकमल प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2016
पृष्ठ :289
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 13827
आईएसबीएन :9788126708024

Like this Hindi book 0

डॉ. यतीश अग्रवाल की यह पुस्तक डायबिटीज जैसे महत्त्वपूर्ण विषय पर हिंदी में अपने ढंग की पहली प्रामाणिक कृति है।

डायबिटीज के साथ जीने की राह / यतीश अग्रवाल डायबिटीज क्यों होती है ?, डायबिटीज की पहचान क्या है ?, डायबिटीज से कैसे बचें ?, मेथी शुगर को कैसे कम करती है ?, खाने-पीने में क्या-क्या एहतियात बरतें ?, कौन-कौन से योगासन शुगर को घटाते हैं ?, व्यायाम के समय क्या-क्या सावधानियाँ बरतें ?, इंसुलिन लेना कब जरूरी है ?, इमरजेंसी की घड़ियों में क्या करें ?, कब कौन-सा टैस्ट कराएँ ?, घर पर ब्लड शुगर की कैसे जाँच करें ?, यौन क्षमता कैसे दुरुस्त रखें ?, डायबिटीज के बुरे असर से शरीर को कैसे बचाएँ ?, डायबिटीज की नई दवाएँ कौन-कौन सी हैं ?

21वीं सदी की इस भाग-दौड़ भरी जिन्दगी में क्या उपाय करें कि डायबिटीज आपके पास न फटके, और अगर हो जाए तो उसे कैसे जीतें। डॉ. यतीश अग्रवाल की यह पुस्तक डायबिटीज जैसे महत्त्वपूर्ण विषय पर हिंदी में अपने ढंग की पहली प्रामाणिक कृति है। सरल सुबोध शैली में लिखी गई इस पुस्तक में आयुर्विज्ञान के साथ-साथ योग, आहार, व्यायाम, जामुन, मेथी और विजयसार के लाभकारी गुणों पर भी उपयोगी जानकारी है। खुलासा है नई से नई खोजों का...और इस नई वैज्ञानिक सोच का भी कि डायबिटीज में मीठी चीजें छोड़ना कत्तई जरूरी नहीं है।

प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book