Trishanku Swarg - Hindi book by - Akkitam Achyutan Nambudiri - त्रिशंकु स्वर्ग - अक्कितम अच्युतन नम्बूदिरी
लोगों की राय

कविता संग्रह >> त्रिशंकु स्वर्ग

त्रिशंकु स्वर्ग

अक्कितम अच्युतन नम्बूदिरी

प्रकाशक : राजकमल प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2021
पृष्ठ :118
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 15737
आईएसबीएन :9789390971312

Like this Hindi book 0

त्रिशंकु स्वर्ग ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित मलयालम भाषा के शीर्षस्‍थ कवि अक्कितम अच्युतन नम्बूदिरी की चुनिन्दा कविताओं का संकलन है। उनकी कविताओं में परम्परा और आधुनिकता का अपूर्व मेल दिखाई पड़ता है। वेदों के गहन अध्ययन से परम्परा के उदात्त तत्वों को उन्होंने अपनी कविता में उतारा, तो सात दशक पहले प्रकाशित उनके खंड काव्य ‘इरूपदाम नूट्टांडिंडे इतिहासम्’ (बीसवीं शताब्दी का इतिहास) से मलयालम कविता में आधुनिकता का प्रवेश हुआ। परम्परा की निरन्तरता में विश्वास रखने वाले इस महाकवि के लिए मनुष्यता की पक्षधरता और मानवीय वेदना का परित्राण हमेशा सर्वोपरि रहा, जिसका प्रमाण इस चयनिका की कविताओं में मिलता है।

प्रथम पृष्ठ

लोगों की राय

No reviews for this book