अमृत बिन्दु उपनिषद - स्वामी शंकरानंद Amrit Bind Upanishad - Hindi book by - Swami Shankaranand
लोगों की राय

चिन्मय मिशन साहित्य >> अमृत बिन्दु उपनिषद

अमृत बिन्दु उपनिषद

स्वामी शंकरानंद

प्रकाशक : सेन्ट्रल चिन्मय मिशन ट्रस्ट प्रकाशित वर्ष : 2002
पृष्ठ :72
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 1813
आईएसबीएन :00000

Like this Hindi book 10 पाठकों को प्रिय

111 पाठक हैं

प्रस्तुत है अमृत बिन्दु उपनिषद्...

अमृतबिन्दु एक उपनिषद् है। इसका अध्ययन प्रारम्भ करने के पहले हमें उपनिषद् का परिचय प्राप्त होना चाहिए। उपनिषद् अनेक हैं और वे चारों वेदों के विभिन्न भाग में मिलते हैं। वेदों में दो प्रकार की विद्यायें मिलती हैं, जिन्हें अपरा और परा विद्या का नाम दिया गया है इन दोनों विद्याओं को प्राप्त कर मनुष्य श्रेष्ठ और सफल जीवन जी सकता है।

प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book