मोरो वाला बाग - अनिता देसाई Moro Wala Bagh - Hindi book by - Anita Desai
लोगों की राय

अतिरिक्त >> मोरो वाला बाग

मोरो वाला बाग

अनिता देसाई

प्रकाशक : साहित्य एकेडमी प्रकाशित वर्ष : 2005
पृष्ठ :39
मुखपृष्ठ :
पुस्तक क्रमांक : 2373
आईएसबीएन :81-7201-491-0

Like this Hindi book 9 पाठकों को प्रिय

64 पाठक हैं

प्रस्तुत है 1947 का भारत विभाजन पर आधारित उपन्यास....

1947 का भारत विभाजन। अपने घर-गाँव और वतन  से दूर हो गये बहुत से परिवारों को न जाने कितनी तकलीफें उठानी पड़ीं। दंगों और फसादों में कितने लोग मारे गये और कितनों का पता नहीं चला। बच्चों को अपने दोस्तों घरों और घरौंदा से न चाहते हुए भी बिछड़ना पड़ा। मोरों वाला बाग बाल उपन्यास की छोटी सी नायिका जूनी भी अपनी नन्हीं-सी दुनिया से अलग-थलग पड़ गई। जान-माल के नुकसान से बचने के लिए उसका परिवार गाँव छोड़कर निकल भागा।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book