महिलाओं की गायत्री उपासना - श्रीराम शर्मा आचार्य Mahilaon Ki Gayatri Upasana - Hindi book by - Sriram Sharma Acharya
लोगों की राय

आचार्य श्रीराम शर्मा >> महिलाओं की गायत्री उपासना

महिलाओं की गायत्री उपासना

श्रीराम शर्मा आचार्य

प्रकाशक : युग निर्माण योजना गायत्री तपोभूमि प्रकाशित वर्ष : 2006
पृष्ठ :48
मुखपृष्ठ :
पुस्तक क्रमांक : 4240
आईएसबीएन :0000

Like this Hindi book 4 पाठकों को प्रिय

373 पाठक हैं

महिलाओं द्वारा गायत्री उपासना....

Mahilaon Ki Gayatri Upasana

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश


गायत्री जीवन को भव्य बनाने वाली विद्या है। उसकी उपासना से शुद्धि और आत्मा में सतोगुणी प्रकाश की वृद्धि होती है, जिससे विद्या, बुद्धि, दया, करुणा, प्रेम, उदारता, शौर्य, साहस और पवित्रता आदि की वृद्धि होती है। अतः प्रत्येक वर्ग के स्त्री-पुरुष को आत्मिक प्रगति और व्यक्तित्व के विकास हेतु गायत्री उपासना करनी चाहिए, परन्तु पिछले सैकड़ो वर्षों से महिलाओं को गायत्री उपासना के लिए प्रतिबन्धित किया जाता रहा है। मध्यकाल में देश में जो आध्यात्मिक अन्धकार युग रहा, उससे अनेक ऐसी निराधार मान्यताएँ उठ खड़ी हुईं जिनके लिए न कोई विवाद था न बहाना। गायत्री उपासना से इसी युग में नारी जाति को प्रतिबन्धित किया गया। कालान्तर में कुछ स्वार्थी तत्वों ने ऐसे श्लोक भी गढ़ लिए जो वैदिक मान्यताओं का प्रतिवाद करते हैं, पर यथार्थ तो यथार्थ ही है। थोड़ी-सी विवेक बुद्धि से भी वस्तुस्थिति को भली प्रकार ह्रदयंगम किया जा सकता है।

प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book