मानवीय विद्युत के चमत्कार - श्रीराम शर्मा आचार्य Manviya Vidhut Ke Chamatkar - Hindi book by - Sriram Sharma Acharya
लोगों की राय

आचार्य श्रीराम शर्मा >> मानवीय विद्युत के चमत्कार

मानवीय विद्युत के चमत्कार

श्रीराम शर्मा आचार्य

प्रकाशक : युग निर्माण योजना गायत्री तपोभूमि प्रकाशित वर्ष : 2006
पृष्ठ :64
मुखपृष्ठ :
पुस्तक क्रमांक : 4286
आईएसबीएन :0000

Like this Hindi book 2 पाठकों को प्रिय

147 पाठक हैं

मानवीय विद्युत के चमत्कार...

इस पुस्तक में मनुष्य शरीर की बिजली द्वारा जो कार्य सम्पन्न होते हैं उन पर प्रकाश डाला गया है। जिस प्रकार स्वास्थ्य़ विज्ञान जानना हर व्यक्ति के लिए आवश्यक है, उसी प्रकार उसे अपनी सबसे मूल्यवान वस्तु ‘शारीरिक विद्युत’ के बारे में जानना चाहिए। कितने दुःख की बात है कि हम में से बहुत सुशिक्षित लोग भी इस महत्वपूर्ण विज्ञान की मोटी-मोटी बातों से परिचित नहीं हैं और इस जानकारी के अभाव में गलत मार्गों को अपनाकर दुःख उठाते रहते हैं।
इस महाविज्ञान को पूरी तरह न तो इस छोटी-सी पुस्तक में समझाया जा सकता था और न उन लोगों को बहुत अधिक गहरी एवं विस्तृत बातों को जानना रुचेगा, जिन तक कि हम इस पुस्तक को पहुँचाने की इच्छा रखते हैं। इसलिए मोटे तौर से रोजमर्रा के जीवन में काम आने वाली बातों में मानवीय विद्युत का क्या और किस प्रकार असर होता है, इस बात को समझाने की प्रयत्न किया गया है।
हर बात को विज्ञान की तराजू से तौलने वालों को धर्म और प्राचीन रीति-नीतियों के औचित्य का अनुभव करने का अवसर मिलेगा और वे देखेंगे कि भारतीय धर्मशास्त्र एवं आचारशास्त्र अंधविश्वास या दंभ पर नहीं वरन् मनोविज्ञान एवं साइंस के गम्भीर अभिज्ञान पर अवलंबित है। इस पुस्तक में एक गूढ़ विज्ञान की सरल-सी व्याख्या की गयी है, किसी विधि निषेध पर विशेष जोर नहीं दिया गया है, ताकि सर्वसाधारण निष्पक्ष रूप से इस पर विचार कर सकें। अपने विषय की यह निराली पुस्तक हिन्दी साहित्य के अंग को पूर्ण करेगी, ऐसा हमारा अनुमान है।

प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book