बदलते रिश्ते - कृष्ण गोपाल रस्तोगी Badalte Rishte - Hindi book by - Krishana Gopal Rastogi
लोगों की राय

कहानी संग्रह >> बदलते रिश्ते

बदलते रिश्ते

कृष्ण गोपाल रस्तोगी

प्रकाशक : सत्साहित्य प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2007
पृष्ठ :116
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 5164
आईएसबीएन :81-7721-088-2

Like this Hindi book 8 पाठकों को प्रिय

428 पाठक हैं

भारतीय परिवारों का पारंपरिक परिवेश आज बदल रहा है। बदलते परिवेश में परिवार के सदस्यों के परस्पर ‘रिश्ते’ भी बदल रहे हैं। प्रस्तुत हैं उन्हीं बदलते हुए रिश्तों की अनूठी और हृदयस्पर्शी कहानियाँ।

<< पिछला पृष्ठ प्रथम पृष्ठ

लोगों की राय

No reviews for this book