भारतीय शाकाहारी व्यंजनों का खज़ाना - संजीव कपूर Bhartiya Shakahari Vyanjano Ka Khazana - Hindi book by - Sanjeev Kapoor
लोगों की राय

खाना खजाना >> भारतीय शाकाहारी व्यंजनों का खज़ाना

भारतीय शाकाहारी व्यंजनों का खज़ाना

संजीव कपूर

प्रकाशक : मंजुल पब्लिशिंग हाउस प्रकाशित वर्ष : 2007
पृष्ठ :96
मुखपृष्ठ :
पुस्तक क्रमांक : 6609
आईएसबीएन :81-86775-03-X

Like this Hindi book 4 पाठकों को प्रिय

65 पाठक हैं

इस पुस्तक में विविध प्रकार के चयनित व्यंजनों को सम्मिलित किया गया है जिनके अनूठे स्वाद को खाने के शौकीन और पारखी लोग पसंद करेंगे...

Bhartiya Shakahari Vyanjano Ka Khazana

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश


जी टी. वी. के लोकप्रिय कार्यक्रम ‘‘खाना खजाना’’ के प्रस्तुतकर्त्ता संजीव कपूर अब भारतीय व्यंजनों का अमूल्य खज़ाना आप के रसोईघर तक ले आये हैं। इस पुस्तक के माध्यम से मुख्य शेफ और पाक कलाविद ने पाठकों को पारम्परिक एवं विदेशी शैली के भारतीय व्यंजनों की दावत दी है।

इस पुस्तक में विविध प्रकार के चयनित व्यंजनों को सम्मिलित किया गया है जिन के अनुठे स्वाद को खाने के शौकीन और पारखी लोग पसंद करेंगे। भव्य भोज समारोह हो या अल्पआहार, यदि आप अपने अतिथि को आश्चर्यचकित करना चाहते हैं तो यह पुस्तक विविध प्रकार की चटपटी मांसाहारी पाक विधियां, स्वादिष्ट शाकाहारी व्यंजन एवं अत्यंत सम्मोहक मीठे व्यंजनों का अमूल्य खजाना प्रस्तुत करती हैं।

प्रत्येक व्यंजन, जिसे देखते ही मुंह में पानी आ जाये और जो वर्षों के अनुभव और सावधानीपूर्वक किये गये प्रयोगों का परिणाम हैं, इस पुस्तक में इस प्रकार प्रस्तुत किये गये हैं कि उन्हें समझना और तैयार करना बहुत सरल प्रतीत होता है। आपको भारतीय प्रणाली के इस खज़ाने में व्यंजन के रोचक एवं नवीन संयोजन, कल्पनाशील विशेष संकेत (टिप्स) एवं विचार मिलेंगे जिससे व्यंजन का स्वाद विशिष्ट हो जाता है। पाक प्रणाली के क्षेत्र में संजीव कपूर की नवीनता ने उनके नाम को देश विदेश के प्रत्येक घर में चिर परिचित बना दिया है। पाक कला के क्षेत्र में निपुणता के लिये उन्हें व्यापक मान्यता मिली एवं अनेक पुरस्कार प्राप्त हुये हैं।

संजीव कपूर 1982 एशियाई खेलों तथा शिलांग में सार्क सम्मेलन की केटरिंग टीम के अभिन्न अंग थे। उन्होंने अनेक देशों में भोजन समारोह आयोजित किये हैं और अतिविशिष्ट व्यक्तियों जैसे राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री के खान-पान का प्रबन्ध किया है। संजीव ने भारतीय पाक कला पर मल्टीमीडिया CD-ROM प्रारंभ किया है। वर्तमान में वह भारतीय प्रणाली के विश्वकोष पर कार्य कर रहे हैं। आप उनसे Website www.Sonjeevkapoor.Com पर संपर्क कर सकते हैं। यह पुस्तक आप को पाक कला में दक्षता प्राप्त करने तथा परिवार एवं मित्रों के प्रति स्नेह व्यक्त करने में सहायक सिद्ध होगी।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book