बुलंद इरादे, निश्चित कामयाबी - नॉर्मन विन्सेन्ट पील Buland Irade, Nishchit Kamyabi - Hindi book by - Norman Vincent Peale
लोगों की राय

व्यवहारिक मार्गदर्शिका >> बुलंद इरादे, निश्चित कामयाबी

बुलंद इरादे, निश्चित कामयाबी

नॉर्मन विन्सेन्ट पील

प्रकाशक : मंजुल पब्लिशिंग हाउस प्रकाशित वर्ष : 2008
पृष्ठ :295
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 7172
आईएसबीएन :9788183220989

Like this Hindi book 7 पाठकों को प्रिय

146 पाठक हैं

अगर आप ठान लें, तो आप कुछ भी कर सकते हैं...

Buland Irade, Nishchit Kamyabi - A Hindi Book - by Norman Vncent Peal

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

‘‘यह पुस्तक इसलिए लिखी गई, क्योंकि मेरा लोगों और उनकी क्षमताओं पर पूरा भरोसा है। मैं उन्हें प्रोत्साहित करना चाहता हूँ कि वे अपने जीवन के स्वामी बनें और अपने मस्तिष्क में छिपी अद्भुत संभावनाओं को पूरी तरह से जान लें।’’

 

-नॉर्मन विन्सेन्ट पील

 

जब आपके सामने कोई समस्या आए–चाहे वह कितनी भी चकराने वाली, मुश्किल या हताश करने वाली क्यों न दिखती हो–तो डॉ. पील के अनुसार एक मूलभूत सिद्धांत याद रखें और उस पर अमल करें। वह सिद्धांत है, अनुभूति और लगन का सिद्घांत। वे बताते हैं कि आप असंभव को संभव कैसे बना सकते हैं। इस पुस्तक से आप यह सीख सकते हैं कि आप कैसे :

* ख़ुद को प्रेरित कर सकते हैं
* आत्मविश्वास पा सकते हैं
* अपने डर भूल सकते हैं
* चमत्कार कर सकते हैं
* असफलता के विचारों से मुक्त हो सकते हैं
* अपने संसाधनों से लाभ उठा सकते हैं
* शांति से और हास्य-बोध के साथ रह सकते हैं
* शिखर पर पहुँचकर वहाँ बने रह सकते हैं

प्रिय पाठक–
अगर आप पुराने दोस्त हैं, तो एक और पुस्तक में आपका स्वागत है। अगर आप नए दोस्त हैं, तो आपका भी स्वागत है। पुराने दोस्तों को बनाए रखना और नए दोस्त बनाना जीवन की प्रमुख खुशियों में से एक है।
लेकिन एक और पुस्तक क्यों, जबकि हम सत्रह पुस्तक अकेले और कई पुस्तकें दूसरों के साथ मिलकर लिख चुके हैं ? शायद यह बात अजीब लगे, लेकिन इंसान को ऐसा लगता रहता है कि उसके पास कहने के लिए कुछ और भी है या वह पहले कही गई बातों को अलग तरीक़े से दोहराना चाहता है या शायद उन सिद्धांतों को ज्यादा प्रभावी ढंग से व्यक्त करना चाहता है, जिन्हें वह कारगर मानता है।

काफ़ी समय पहले मुझे एक धुन सवार हो गई थी। मेरी धुन लोगों की मदद करने की थी, ताकि वे जीवन में सर्वश्रेष्ठ हासिल कर सकें और अपनी मुश्किलों से रचनात्मक तरीक़े से उबर सकें।
व्यक्तिगत रूप से मैं इंसान के जबर्दस्त गुणों और अद्भुत खूबियों से हमेशा प्रभावित हुआ हूँ। मेरे लिए यह इतना रोमांचक है, इतना अद्भुत है कि मैं खुद को एक और पुस्तक लिखने से रोक नहीं पाया। इसमें मैंने उन बदले हुए इंसानों की प्रेरक कहानियाँ शामिल की हैं, जिन्होंने कोई उल्लेखनीय काम किया है, ख़ास तौर पर अपनी क्षमताओं को मुक्त करने में। ये आम लोगों की कहानियाँ हैं, जो बिलकुल हमारी तरह के हैं। कम से कम, मेरी तरह के तो हैं ही।

मैंने जब इतने सारे लोगों को अपनी समस्याओं पर विजय पाते और असली जीवनमूल्यों को पहचानते देखा, तो मुझे पता चला कि रचनात्मक परिणामों में हमेशा कुछ विशिष्ट सिद्धांत शामिल होते हैं। यह पुस्तक उन्हीं प्रगतिशील और कारगर सिद्धांतों को बताने के लिए लिखी गई है, ताकि मेरे पाठक उन्हें ख़ुद आज़माने के लिए प्रोत्साहित हो सकें। इसका लक्ष्य आपको यह बताना है कि आप सब कुछ कर सकते हैं, बशर्तें आप ठान लें।

यह पुस्तक इंसान की क्षमता में प्रबल विश्वास से लिखी गई है। यह लोगों को प्रोत्साहित करने की इच्छा से लिखी गई है, ताकि वे अपने जीवन के मालिक बनें और अपने मस्तिष्क में निहित अद्भुत संभावनाओं को पहचानकर उनका दोहन करें।
अगर आप सर्वश्रेष्ठ और बेहद रोमांचक जीवनमूल्यों का अनुभव नहीं कर पा रहे हैं, तो यह पुस्तक आपको लक्ष्य तक पहुँचने के लिए कारगर सुझाव देगी। अगर मुश्किलें और समस्याएँ आप पर हावी हो रही हैं तथा आपका आत्मविश्वास डगमगा रहा है, तो यह पुस्तक आपको एहसास दिलाएगी कि आप अपनी समस्या का सामना कर सकते हैं और बहुत अच्छी तरह कर सकते हैं। इसमें दिए गए व्यावहारिक सिद्धांत आपकी भी उसी तरह मदद कर सकते हैं जिस तरह उन्होंने दूसरों की मदद की है।

इस पुस्तक को पढ़ने के बाद अगर आपका अपने मस्तिष्क की शक्तियों में विश्वास बढ़ जाता है, अगर आपका विचार तंत्र अधिक कारगर हो जाता है और अगर आप इस सच्चाई को जान जाते हैं कि आप किसी भी समस्या का सफलतापूर्वक सामना कर सकते हैं, तो मैं समझूँगा कि इसे लिखने का मेरा सच्चा उद्देश्य पूरा हो गया है।
ज़ाहिर है, इस पुस्तक में लिखी हर बात, विचार और सिद्धांत पर मुझे पूरा भरोसा है। मुझे उन पर इसलिए भरोसा है, क्योंकि वे कारगर हैं। हमें आशा है कि यह पुस्तक आपसे कुछ कहेगी और आपके लिए कुछ करेगी।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book