चकैया नीम - रवीन्द्र कालिया Chakaiya Neem - Hindi book by - Ravindra Kaliya
लोगों की राय

परिवर्तन >> चकैया नीम

चकैया नीम

रवीन्द्र कालिया

प्रकाशक : भारतीय साहित्य संग्रह प्रकाशित वर्ष : 2009
पृष्ठ :112
मुखपृष्ठ :
पुस्तक क्रमांक : 7634
आईएसबीएन :00000

Like this Hindi book 1 पाठकों को प्रिय

178 पाठक हैं

चकैया नीम...

Chakaiya Neem - A Hindi EBook By Ravindra Kaliya


रवीन्द्र इस दौर के ऐसे रचनाकारों में से हैं जो रचना प्रक्रिया के संघर्ष में ही आगे आगे नहीं रहे, बल्कि जिन्होंने अपनी दिशा को खोजने के लिए लगातार प्रयोग किए और अपनी सीमाओं को पहचाना। रवीन्द्र की रचना लगातार संक्रमण के दौर में रही है और आज भी है, जबकि उनके अनेक समकालीन रचनाकारों में से अधिकांश या तो अपनी सीमाओं में घिर कर रह गये या फिर नितांत निष्क्रिय हो गये या अन्त में रहस्यवादी हो गये।

कालिया के प्रसंग में यह संघर्ष यथार्थवाद की ओर मुड़ने की प्रक्रिया का संघर्ष है। इसमें कालिया न केवल विषय वस्तु के रूप विज्ञान में भी दिशा खोज रहे हैं, जिसका प्रथम फल यह हुआ है कि उनकी कहानियाँ पूर्ववर्ती लघुता को छोड़कर लम्बी होने लगी हैं। इस पुस्तक के कुछ पृष्ठ यहाँ देखें।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book