जंग लगी तलवार - इन्दिरा गोस्वामी Jung Lagi Talwar - Hindi book by - Indira Goswami
लोगों की राय

उपन्यास >> जंग लगी तलवार

जंग लगी तलवार

इन्दिरा गोस्वामी

प्रकाशक : साहित्य एकेडमी प्रकाशित वर्ष : 2006
पृष्ठ :216
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 8056
आईएसबीएन :8126017066

Like this Hindi book 9 पाठकों को प्रिय

264 पाठक हैं

साहित्य अकादेमी पुरस्कार से सम्मानित असमिया उपन्यास ‘मामरे धरातरोवास’ का हिन्दी रूपान्तरण

Jung Lagi Talwar by Indira Goswami

साहित्य अकादेमी पुरस्कार से सम्मानित असमिया उपन्यास ‘मामरे धरातरोवास’ यानी जंग लगी तलवार में मामोनी रायसम गोस्वामी (इंदिरा गोस्वामी) ने श्रमिकों की मजबूरी और बदहाली की गाथा प्रस्तुत की है। श्रमिकों को हड़ताल के लिए कौन प्रेरित करता है और उससे किस तरह उनकी हालत दिन-ब-दिन बदतर होती जाती है, इसी के चरम बिन्दु तक इस उपन्यास की कहानी जाती है।



अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book