यौन मनोविज्ञान - हैवलॉक एलिस Yaun Manovigyan - Hindi book by - Havelock Ellis
लोगों की राय

विविध >> यौन मनोविज्ञान

यौन मनोविज्ञान

हैवलॉक एलिस

प्रकाशक : राजपाल प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2011
पृष्ठ :292
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 8154
आईएसबीएन :9788170289838

Like this Hindi book 9 पाठकों को प्रिय

104 पाठक हैं

इस ग्रंथ की गणना बीसवीं शताब्दी के क्लॉसिक ग्रंथों मे की जाती है जिन्होंने मनुष्य के जीवन और धारणाओं को गहराई से प्रभावित किया।

Yaun Manovigyan by Havelock Ellis

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

इस ग्रंथ की गणना बीसवीं शताब्दी के क्लॉसिक ग्रंथों मे की जाती है - जिन्होंने मनुष्य के जीवन और धारणाओं को गहराई से प्रभावित किया।

मनोविज्ञान में यौन भावनाओं के प्रभाव का विचार यद्यपि पहले-पहल फ्रायड ने दिया था परंतु इस विषय पर व्यापक अध्ययन और लेखन हैवलाक एलिस ने किया। अनेक खण्डों में प्रकाशित उनके अध्ययन दुनिया भर में फैले और पढ़े गये और उन सबका सार-संक्षेप उन्होंने ‘दि साइकॉलॉजी ऑफ सैक्स’ नामक ग्रंथ में किया जिसका अनुवाद दुनिया भर की बहुत-सी भाषाओं में प्रकाशित हुए।

हिन्दी में इस ग्रंथ का अनुवाद प्रसिद्ध लेखक और संपादक तथा स्वयं यौन शिक्षा के समर्थक, मन्मथनाथ गुप्त ने बड़ी लगन और योग्यता से सम्पन्न किया है। यह मूल ग्रंथ के ही समान धाराप्रवाह और स्पष्ट है और पाठकों ने इसे बहुत पसंद किया है।

लोगों की राय

No reviews for this book