बाबू की बगिया - नफीस आफरीदी Babu ki Bagiya - Hindi book by - Nafees Aafridi
लोगों की राय

कहानी संग्रह >> बाबू की बगिया

बाबू की बगिया

नफीस आफरीदी

प्रकाशक : हिन्द पॉकेट बुक्स प्रकाशित वर्ष : 2010
पृष्ठ :90
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 8266
आईएसबीएन :9788121613989

Like this Hindi book 6 पाठकों को प्रिय

100 पाठक हैं

पैसठोत्तर पीढ़ी के सशक्त कथाकार नफीस आफरीदी की कहानियां

Babu ki Bagiya - A Hindi Book - by Nafees Aafridi

पैसठोत्तर पीढ़ी के सशक्त कथाकार नफीस आफरीदी की कहानियां समाज के उस तलछट वर्ग की कहानियां हैं जो हिन्दी साहित्य से धीरे-धीरे बेदखल होता जा रहा है। हाथ जोड़ना और चुप रहना दोनों चीजें उसने बहुत जल्दी सीख ली थीं। यह कहानी हिसाब-किताब एक स्कूल में दाई का काम कर रही बूढी गरीब स्त्री की त्रासदी है, बर्खास्तगी की तलवार जिसके सिर पर हमेशा लटकी रहती है।

कुछ ऐसी ही स्थिति शिकंजा कहानी के सौ रुपये वेतन पर एडहाक बेसिस पर काम करने वाले स्कूल मास्टर की है जो अभावग्रस्त जीवन में कर्ज से दबे होने के कारण अपने बाल-बच्चों के लिए दो वक्त की रोटी का जुगाड़ तक नहीं कर पा रहा है। कहीं कहानी की नौकरानी चंपा के जीवन की त्रासदी भी उपरोक्त कहानियों से अलग नहीं है।

नपुंसक बूढे पति के चंगुल से छूट भागने के बाद जिंदगी के हर मोड़ पर जिसे मांसभक्षी गिद्ध ही मिलते हैं। इसके अतिरिक्त किस्सा-दर-किस्सा, वायदा-खिलाफ व बाबू की बगिया संग्रह की उल्लेखनीय कहानियां हैं।


लोगों की राय

No reviews for this book