भारत की क्लासिक लोक कथाएँ - पंचतंत्र भाग - 4 - राजपाल ग्राफिक्स स्टूडियो Panchatantra Vol - 4 - Hindi book by - Rajpal Graphic Studio
लोगों की राय

कविता संग्रह >> भारत की क्लासिक लोक कथाएँ - पंचतंत्र भाग - 4

भारत की क्लासिक लोक कथाएँ - पंचतंत्र भाग - 4

राजपाल ग्राफिक्स स्टूडियो

प्रकाशक : शिक्षा भारती प्रकाशित वर्ष : 2014
पृष्ठ :16
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 9123
आईएसबीएन :9789350642931

Like this Hindi book 7 पाठकों को प्रिय

256 पाठक हैं

भारत की क्लासिक लोक कथाएँ - पंचतंत्र भाग - 4

Bharat Ki Classic Lok Kathayen - Panchatantra Vol - 4 - A Hindi Book by Rajpal Graphic Studio

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

‘‘पंचतन्त्र’’ सचित्र कहानियों की एक श्रृंखला है। ये कहानियाँ हज़ारों वर्ष पूर्व राजकुमारों और राजकुमारियों को शिक्षा देने के लिए लिखी गईं। ये कहानियाँ बहुत ही सहज, सरल और आसानी से समझ आने वाले व बड़े ही मनोरंजक ढंग से शिक्षा देती है।

हर कहानी ईमानदारी, वफ़ादारी, एकता, अच्छे चरित्र और जीवन मूल्यों की शिक्षा देती है। कहानियों के मुख्य पात्र पशु व पक्षी हैं इसलिए बच्चे कहानी में दी गई शिक्षा को आसानी से ग्रहण कर लेते हैं। पंचतन्त्र की कहानियाँ बच्चों के साथ-साथ बड़ों में भी लोकप्रिय हैं।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book