Pashu - Hindi book by - Devdutt Pattanaik - पशु - देवदत्त पट्टनायक
लोगों की राय

विविध >> पशु

पशु

देवदत्त पट्टनायक

प्रकाशक : राजपाल एंड सन्स प्रकाशित वर्ष : 2018
पृष्ठ :198
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 9278
आईएसबीएन :9789350643686

Like this Hindi book 6 पाठकों को प्रिय

277 पाठक हैं

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

कैसे एक मछली दुनिया को बचा लेती है, कैसे एक घोड़ा आसमान में उड़ता है और कैसे एक राजा को पता चलता है कि उसकी पत्नी वास्तव में मेंढक है। हिन्दू पुराकथा शास्त्रों में ऐसे अनेक रोमांचक कहानियाँ हैं जो मनुष्य को अचम्भित करती हैं। पढ़िये कि क्यों भारतीय संस्कृति में कुछ पशु-पक्षियों को तो देवी-देवताओं के समान पूजा जाता है और कुछ को निकृष्ट बता कर उनसे दूरी रखी जाती है क्यों कुछ पशुओं की तो मनुष्य से शत्रु माने जाते हैं तो कुछ परम मित्र। एक हिरण ने रामायण में इतनी महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई कि पूरा घटनाक्रम ही बदल गया। और कैसे एक नेवले ने युधिष्ठिर को त्याग का सही अर्थ सिखाया ? ऐसे ही अनेक रोचक प्रश्नों के उत्तर देवदत्त पट्टनायक की इस पुस्तक में मिलेंगे।

प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book