कुछ इश्क किया कुछ काम किया - पीयूष मिश्रा Kuchh Ishq Kiya Kuchh Kaam Kiya - Hindi book by - Piyush Mishra
लोगों की राय

कविता संग्रह >> कुछ इश्क किया कुछ काम किया

कुछ इश्क किया कुछ काम किया

पीयूष मिश्रा

प्रकाशक : राजकमल प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2015
पृष्ठ :147
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 9326
आईएसबीएन: 9788126728435

Like this Hindi book 2 पाठकों को प्रिय

23 पाठक हैं

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

सिनेमा और थिएटर के अन्तरिक्ष में विधाओं के आर-पार उड़नेवाले धूमकेतु कलाकार पीयूष मिश्रा यहाँ, इस जिल्द के भीतर सिर्फ एक बेचैन शब्दकार के रूप में मौजूद हैं ! ये कविताएँ उनके जज्बे की पैदावार हैं जिसे उन्होंने अपनी कामयाबियों से भी कमाया है, नाकामियों से भी ! हर अच्छी कविता की तरह ये कविताएँ भी अपनी बात खुद कहने की कायल हैं, फिर भी जो ख़ास तौर पर सुनने लायक है वह है इनकी बेचैनी जो इनके कंटेंट से लेकर फार्म तक एक ही रचाव के साथ बिंधी है ! दूसरी ध्यान रखने लायक बात ये कि इनमें से कोई कविता अब तक न मंच पर उतरी है, न परदे पर ! यानी यह सिर्फ और सिर्फ कवि-शायर पीयूष मिश्रा की किताब है !


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book