सुबह का पता - आसिफ अली Subah Ka Pata - Hindi book by - Asif Ali
लोगों की राय

नई पुस्तकें >> सुबह का पता

सुबह का पता

आसिफ अली

प्रकाशक : राधाकृष्ण प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2016
पृष्ठ :90
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 9517
आईएसबीएन :9788183618137

Like this Hindi book 7 पाठकों को प्रिय

169 पाठक हैं

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

‘CANSURvive : सुबह का पता’ नाटक विशेष तौर पर ब्रेस्ट कैंसर और सामान्यतः कैंसर मात्र को केंद्र में रखकर लिखा गया एक सुचिंतित और सुनियोजित नाटक है। इसका उद्देश्य कैंसर को लेकर हमें सचेत करना तो है ही, चिकित्सकीय प्रमाणिकता के साथ उसके इर्द-गिर्द फैले डर, आशंकाओं और गलतफहमियों को दूर करना भी है।

रजनी और कमल नाम की दो महिलाओं की कहानियों को आधार बनाकर नाटक हमें इस डरावनी बीमारी के सामाजिक और आर्थिक पहलुओं से भी अवगत कराता है। इस नाट्य-रचना के अलावा परिशिष्ट में कैंसर से जुड़ी कुछ और आवश्यक सामग्री भी दी गई है। कैंसर क्या है, कीमोथेरेपी क्या है, इसके इलाज की प्रक्रिया किस-किस चरण से होकर गुजरती है।

ऑपरेशन के बाद रोगी को कैंसर से मुक्ति की इस लड़ाई में क्या-क्या करना होगा, यह सब यहाँ दे दिया गया है। आवश्यक शोध और अनुभवी चिकित्सकों और कैंसर-विरोधी सामाजिक क्रियाशीलता में संलग्न लोगों के गंभीर परामर्श के साथ लिखित नाटक के साथ संयोजित यह पुस्तक ब्रेस्ट कैंसर के बारे में जानने के इच्छुक लोगों के लिए एक मार्गदर्शिका की हैसियत रखती है।

लोगों की राय

No reviews for this book