अंधेरे में एक चेहरा (अजिल्द) - रस्किन बॉण्ड Andhere Mein Ek Chehra (Soft) - Hindi book by - Ruskin Bond
लोगों की राय

नई पुस्तकें >> अंधेरे में एक चेहरा (अजिल्द)

अंधेरे में एक चेहरा (अजिल्द)

रस्किन बॉण्ड

प्रकाशक : राजपाल एंड सन्स प्रकाशित वर्ष : 2016
पृष्ठ :160
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 9890
आईएसबीएन :9789350642023

Like this Hindi book 0

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

रस्किन बॉन्ड ने एक बार कहा था कि वे भूत-प्रेत में विश्वास नहीं करते लेकिन उनको हर समय, हर जगह भूत नज़र आते जंगल में, सिनेमा के बाहर भीड़ में और बार में। पिछले पाँच दशकों में लिखी उनकी सभी अलौकिक कहानियाँ इस पुस्तक में संकलित हैं।

पहली कहानी शिमला के बाहर चीड़ के जंगल की पृष्ठभूमि पर केन्द्रित है। आखिरी कहानी उजाड़ कब्रिस्तान पर आधारित है। कहानियों में बन्दरों का झुंड है, जंगली कुत्तों का समूह है, भूत-प्रेत और चुड़ैलों के अलावा मशहूर अंग्रेज़ी लेखक रुडयार्ड किपलिंग का भूत भी शामिल है जिससे लेखक की मुलाकात लंदन में होती है। अँधेरी रात, पूरा चाँद और साथ में यह पुस्तक-भरपूर मसाला है आपके आनन्द और रोमांच के लिए।

साहित्य अकादमी पुरस्कार, पद्मश्री और पद्मभूषण से सम्मानित रस्किन बॉन्ड की अन्य उल्लेखनीय पुस्तकें हैं - उड़ान, रूम ऑन द रूफ, वे आवारा दिन, दिल्ली अब दूर नहीं, ऐडवेंचर्स ऑफ रस्टी, नाइट ट्रेन ऐट देओली और पैन्थर्स मून।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book