कालसर्पयोग शांति एवं घट विवाह पर शोधकार्य - भोजराज द्विवेदी Kalsarpyog Shanti Aur Ghat Vivah Par Shodhkarya - Hindi book by - Bhojraj Dwivedi
लोगों की राय

नई पुस्तकें >> कालसर्पयोग शांति एवं घट विवाह पर शोधकार्य

कालसर्पयोग शांति एवं घट विवाह पर शोधकार्य

भोजराज द्विवेदी

प्रकाशक : डायमंड पब्लिकेशन्स प्रकाशित वर्ष : 2010
पृष्ठ :192
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 9943
आईएसबीएन: 9788128809309

Like this Hindi book 0

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

भोजराज द्विवेदी द्वारा विचरित ‘कालसर्प योग शांति एवं घट-विवाह पर शोधकार्य’ शीर्षक पुस्तआक का यह नवीन संस्किरण निश्चित रूप से कालसर्पयोग से संबंधित भ्रांतियों को दूर करेगा। सर्पों से मैत्री भाव स्था्पित करना, उनकी पूजा से अनंत ऐश्वसर्य और मनोवांछित आशीर्वाद प्राप्त करना ही भारतीय संस्कृभति की विशेषता है। इस रहस्य, को इस पुस्तअक में विस्ताऔर से समझाया गया है। प्रबुद्ध पाठकों के अनेक पत्रों में वर्णित समस्यााओं तथा शंकाओं से संबंधित कई प्रस्तातवना इस नए संस्कनरण में दी गई हैं इसके साथ कालसर्प योग में जन्मेंम प्रसिद्ध लोगों की कुंडलियों का विश्ले्षण भी प्रबुद्ध पाठकों हेतु इस पुस्तेक में प्रकाशित किया गया है। साथ ही कुछ आवश्येक संस्कृडत श्लोलकों का हिंदी में अनुवाद, अनेक महत्व पूर्ण शंकाओं का हल इस पुस्तआक में नई प्राण-शक्ति संचरित कर रहा है।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book