Rajkamal Prakashan/राजकमल प्रकाशन
लोगों की राय

राजकमल प्रकाशन की पुस्तकें :

सोहो में मार्क्स और अन्य नाटक

हॉवर्ड ज़िन

मूल्य: Rs. 495

  आगे...

सौन्दर्यशास्त्र के तत्व

कुमार विमल

मूल्य: Rs. 600

इस पुस्तक में सौंदर्यशास्त्र को व्यावहारिक आलोचना के धरातल पर उतारा गया है   आगे...

सौरमंडल

गुणाकर मुले

मूल्य: Rs. 150

विज्ञान–विषयक लेखकों में अपनी शोधपूर्ण जानकारियों और सरल भाषा–शैली के लिए समादृत गुणाकर मुले की यह पुस्तक अत्यंत उपयोगी सामग्री सँजोए हुए है।

  आगे...

स्कूल की हिन्दी

कृष्ण कुमार

मूल्य: Rs. 200

  आगे...

स्कोलेरिस की छाँव में

पुरुषोत्तम अग्रवाल

मूल्य: Rs. 300

स्कोलेरिस की छाँव में

  आगे...

स्त्रियाँ: पर्दे से प्रजातंत्र तक

दुष्यंत

मूल्य: Rs. 400

गहन शोध के आधार पर लिखित इस पुस्तक को भारत में स्त्री इतिहास-लेखन के लिहाज से महत्त्वपूर्ण माना जाएगा।   आगे...

स्त्रियों की पराधीनता

जॉन स्टुअर्ट मिल

मूल्य: Rs. 295

पुरुष-वर्चस्ववाद की सामाजिक-वैधिक रूप से मान्यता प्राप्त सत्ता को मिल ने मनुष्य की स्थिति में सुधार की राह की सबसे बड़ी बाधा बताते हुए स्त्री-पुरुष सम्बन्धों में पूर्ण समानता की तरफदारी की है।   आगे...

स्त्री : यौनिकता बनाम आध्यात्मिकता

प्रमीला के.पी.

मूल्य: Rs. 200

समकालीन स्त्री-चिन्तन, लिंग-संवेदना, स्त्री-प्रकृति, स्त्री-यौनिकता, देह-विमर्श, सांस्कृतिक संक्रमण, सिनेमा आदि विषयों के समायोजन में हिन्दी में यह पहला प्रयास है।   आगे...

स्त्री अध्ययन की बुनियाद

प्रमीला के.पी.

मूल्य: Rs. 350

  आगे...

स्त्री चिंतन की चुनौतियाँ

रेखा कस्तवार

मूल्य: Rs. 495

रेखा कस्तवार ने इस पुस्तक में स्त्री को केन्द्र में रखकर लिखी गई महिला और पुरुष रचनाकारों के उपन्यासों का तुलनात्मक अध्ययन किया है   आगे...

‹ First165166167168169Last ›  View All >>   1744 पुस्तकें हैं|