अकाज/akaaj
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

अकाज  : पुं० [सं० अकार्य] १. खराब या बुरा काम। २. किसी काम में होने वाली देर, बाधा या हानि-हरज। क्रि० वि० बिना किसी फलया लाभ के। निष्प्रयोजन। व्यर्थ। उदाहरण—बीते जाये है, जनम अकाज रे—नानक।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
अकाजना  : अ० [हिं० अकाज] १. अकाज, हरज या हानि होना। २. निष्प्रयोजन या व्यर्थ हो जाना। किसी योग्य न रह जाना। उदाहरण—मानहुँ राज अकाजेउ आजू।—तुलसी। स० अकाज [हरज या हानि] करना। अ० [हिं० काल) मर जाना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
अकाजी  : वि० [हिं० अकाज] [स्त्री० अकाजिनि] १. जिसे कोई काम न हो। २. अकाज या हरज करने वाला। ३. कार्य में रोड़ा अटकानेवाला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ