आँखा/aankha
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

आखा  : वि० [सं० अक्षय, प्रा० अक्खय] १. समूचा। सारा। २. कुल। समस्त। पुं० दे० ‘खुरजी’।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
आखात  : पुं० [सं० आ√खन्+क्त] १. जमीन आदि खोदना। खनन। २. जमीन खोदने का कोई औजार या करण। जैसे—कुदाल या खंता। ३. समुद्र का खाड़ी। (गल्फ)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
आखातीज  : स्त्री० [सं० अक्षय तृतीया, प्रा० अख्खयतइज्ज० गुं० अखत्रीज, का० अखित्रद] वैशाख सुदी तीज। अक्षय तृतीया।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
आखा नवमी  : स्त्री० =अक्षय नवमी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ