गर्व/garv
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

गर्व  : पुं० [सं०√गर्व् (अहंकार करना)+घञ्] [वि० गर्वित, गर्ववान] १. अपने किसी श्रेष्ट कार्य, बात, वस्तु, व्यक्ति आदि के संबंध में होनेवाली न्यायोचित अहंभावना। जैसे–हमें अपने देश, धर्म तथा संस्कृति पर गर्व है। २. अपनी शक्ति, समर्थता आदि की दृष्टि से मन में होनेवाली अयुक्तपूर्ण अहंभावना। जैसे–उन्हें अपनी डंडे बाजी पर गर्व है। ३. अभिमान। घमंड। ४. साहित्य में वह अवस्था जब मनुष्य अपने किसी गुण या विशेषता के विचार से दूसरों की अपेक्षा अपने को बहुत बड़ा-चढ़ा समझता है और कभी-कभी अपने उत्कर्ष की भावना से दूसरों की अवज्ञा भी करता है। (इसकी गणना संचारी भावों में होती है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गर्वर  : वि० [सं०√गृ (लीलना)+वरच्] जिसे गर्व हो।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गर्वरी  : स्त्री० [सं० गर्वर+ङीष्] दुर्गा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गर्ववंत  : वि० [सं० गर्ववान्] (व्यक्ति) जिसे अपने अथवा अपनी किसी चीज, बात या व्यवहार पर गर्व हो। अभिमानी। घमंडी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गर्वाना  : अ० [सं० गर्व] स्वयं गर्व करना। स० किसी को गर्वित करना या कराना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गर्विणी  : वि० स्त्री० [सं० गर्व+इनि-ङीप्]१. गर्व करनेवाली (स्त्री०)। २. मान करने या रूठनेवाली। मानिनी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गर्वित  : वि० [सं०√गर्व्+क्त] [स्त्री० गर्विता] १. गर्व से युक्त। २. गर्व या अभिमान करनेवाला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गर्विता  : स्त्री० [सं० गर्वित+टाप्] साहित्य में वह नायिका जिसे अपने रूप, गुण आदि का अथवा अपने पति या प्रेमी के परम अनुराग का गर्व या घमंड होता है।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गर्विष्ठ  : वि० [सं० गर्व+इष्ठन्] १. जिसे गर्व हो। गर्वीला। २. अभिमानी। घमंडी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गर्वी (र्विन्)  : वि० [सं० गर्व+इनि] अभिमानी। घमंडी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गर्वीला  : वि० [सं० गर्व+हिं० इला (प्रत्यय)] [स्त्री० गर्विली] १. गर्व करनेवाला। गर्व से युक्त। २. अभिमानी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ