गिरि/giri
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

गिरि  : पुं० [सं०√गृ+कि] १. पर्वत। पहाड़। २. दशनामी साधुओं के एक वर्ग की उपाधि। जैसे–स्वामी परमानन्द गिरि। ३. संन्यासियों का एक भेद या वर्ग। ४. पारे का एक दोष जो खाने वाले का शरीर जड़ कर देता है। ५. आँख का एक रोग जिसमें ढेंढर या पुतली फट या फूट जाती है।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-कंटक  : पुं० [ष० त०] वज्र।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-कंदर  : पुं० पहाड़ की गुफा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिक  : वि० [सं० गिरि+कन्] १. गिरि या पर्वत संबंधी। गिरि या पर्वत में होनेवाला। पहाड़ी। पुं० [सं० गिरि√कै (प्रकाशित होना)+क] महादेव। शिव।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-कदंब  : पुं० [मध्य० स०] एक प्रकार का कदंब (वृक्ष)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-कदली  : स्त्री० [मध्य० स०] पहाड़ी केला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-कर्णिका  : स्त्री० [गिरि-कर्ण, ब० स० कप्, टाप्, इत्व] १. पृथ्वी। २. अपराजिता लता। ३. अपा-मार्ग। चिचड़ा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-कर्णी  : स्त्री० [गिरि-कर्ण, ब० स० ङीष्] १. अपराजिता या कोयल नाम की लता। २. जवासा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिका  : स्त्री० [सं० गिरि+क-टाप्] १. चूहे का मादा। चूही। २. छोटा चूहा। चुहिया।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-काण  : वि० [तृ० त० ] जो गिरि नामक नेत्ररोग के कारण काना हो गया हो।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-कूट  : पुं० [ष० त०] पहाड़ की चोटी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिचर  : पुं० [सं० गिरि√चर् (चलना)+ट] पहाड़ पर रहने या विचरण करनेवाला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिज  : वि० [सं० गिरि√जन् (उत्पन्न होना)+ड] पहाड़ पर पहाड़ में या पहाड़ से उत्पन्न होनेवाला। पुं० १. शिलाजीत। २. लोहा। ३. अवरक। अभ्रक। ४. गेरू। ५.एक प्रकार का पहाड़ी महुआ।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिजा  : स्त्री० [सं० गिरिज-टाप्] १. हिमालय की पुत्री, पार्वती। गौरी। २. गंगा। ३. पहाड़ी केला। ४. चमेली। ५. चकोतरा। पुं०=गिरिजा (ईसाइयों का प्रार्थना मंदिर)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिजा-कुमार  : पुं० [ष० त०] कार्तिकेय।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिजा-पति  : पुं० [ष० त०] महादेव।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिजा-बीज  : पुं० [ष० त०] गंधक।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिजा-मल  : पुं० [ष० त०] अभ्रक।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-जाल  : पुं० [ष० त०] पर्वत माला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिज्वर  : पुं० [सं० गिरि√ज्वर् (रुग्ण होना)+णिच्+अच्] वज्र।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरित्र  : पुं० [सं० गिरि√त्रै (रक्षा करना)+क] १. महादेव। शिव। २. समुद्र। सागर।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-दुर्ग  : पुं० [सं० कर्म० स०] पहाड़ी किला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि दुहिता(तृ)  : स्त्री० [ष० त०] पार्वती।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-द्वार  : स्त्री० [ष० त०] पहाड़ की घाटी। दर्रा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिधर  : पुं० [ष० त०] गिरि अर्थात् गोवर्धन पर्वत को धारण करनेवाले, श्रीकृष्ण।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिधरन  : पुं० =गिरिधर।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-धातु  : पुं० [ष० त०] गेरू।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिधारन  : पुं०=गिरिधर।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिधारी(रिन्)  : पुं० [सं० गिरि√धृ (धारण करना)+णिनि] श्रीकृष्ण।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-ध्वज  : पुं० [ब० स०] इंद्र।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-नंदिनी  : स्त्री० [ष० त०] १. पार्वती। २. गंगा। ३. पहाड़ से निकली हुई नदी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-नगर  : पुं० [सं० मध्य० स०] १. गिरनार पर्वत पर बसा हुआ एक नगर जो जैनियों का एक पवित्र तीर्थ है। २. पुराण के अनुसार रैवतक पर्वत।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-नाथ  : पुं० [ष० त०] १. महादेव। शिव। २. हिमालय। ३. गोवर्धन पर्वत।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-नितंब  : पुं० [ष० त०] पहाड़ की ढाल।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-पथ  : पुं० [मध्य० स०] दो पहाड़ों के बीच का मार्ग। घाटी। दर्रा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-पीलु  : पुं० [ष० त०] फालसा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिपुष्पक  : पुं० [गिरि-पुष्प, ष० त० गिरिपुष्प√कै (चमकना)+की] १. पथरफोड़ नाम का पौधा। २. शिलाजीत।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-प्रस्थ  : पुं० [ष० त०] पहाड़ के ऊपर का चौरस मैदान।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-प्रिया  : स्त्री० [ब० स०] सुरागाय।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-बांधव  : पुं० [ष० त०] शिव।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिभिद्  : पुं० [सं० गिरि√भिद् (फाड़ना)+क्विप्] पाषाण भेद। वि० पहाड़ों को फोड़नेवाला (नद, नदी, झरना आदि)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिमल्लिका  : स्त्री० [गिरि-मल्लि, स० त० +कन्-टाप्] कुटज। कोरैया।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-मान  : पुं० [ब० स०] बहुत बड़ा हाथी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-मृत  : स्त्री० [ष० त०] १. पहाड़ी मिट्टी। २. गेरू।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-राज  : पुं० [ष० त०] १. बड़ा पर्वत। २. हिमालय। ३. गोवर्धन पर्वत। ४. सुमेरू।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-वर्तिका  : स्त्री० [मध्य० स० ] एक प्रकार का पहाड़ी हंस।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-व्रज  : पुं० [ब० स०] १. केकय देश की राजधानी। २. जरासंध की राजधानी राजगृह।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिश  : पुं० [सं० गिरि√शी (सोना)+ड] महादेव। शिव।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिशाल  : पुं० [सं० गिरि√शल् (गति)+अण्] एक प्रकार का बाज पक्षी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिशालिनी  : स्त्री० [सं० गिरि√शल्+णिनि-ङीष्] अपराजिता लता।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-शिखर  : पुं० [ष० त०] पहाड़ की चोटी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-संभव  : पुं० [ब० स०] एक प्रकार का पहाड़ी चूहा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-सार  : पुं० [ष० त०] १. लोहा। २. शिलाजीत। ३. राँगा। ४. मैनाक पर्वत। ५. मलय पर्वत।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-सुत  : पुं० [ष० त०] मैनाक पर्वत।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरि-सुता  : स्त्री० [ष० त०] पार्वती।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ