गिरिज/girij
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

गिरिज  : वि० [सं० गिरि√जन् (उत्पन्न होना)+ड] पहाड़ पर पहाड़ में या पहाड़ से उत्पन्न होनेवाला। पुं० १. शिलाजीत। २. लोहा। ३. अवरक। अभ्रक। ४. गेरू। ५.एक प्रकार का पहाड़ी महुआ।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिजा  : स्त्री० [सं० गिरिज-टाप्] १. हिमालय की पुत्री, पार्वती। गौरी। २. गंगा। ३. पहाड़ी केला। ४. चमेली। ५. चकोतरा। पुं०=गिरिजा (ईसाइयों का प्रार्थना मंदिर)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिजा-कुमार  : पुं० [ष० त०] कार्तिकेय।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिजा-पति  : पुं० [ष० त०] महादेव।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिजा-बीज  : पुं० [ष० त०] गंधक।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिजा-मल  : पुं० [ष० त०] अभ्रक।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गिरिज्वर  : पुं० [सं० गिरि√ज्वर् (रुग्ण होना)+णिच्+अच्] वज्र।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ