ग्रसन/grasan
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

ग्रसन  : पुं० [सं०√Öग्रस् (खाना)+ल्युट-अन] १.ग्रसने या पकड़ने की क्रिया या भाव। कपड़। २. खाना या निगलना। भक्षण। ३. बुरी तरह से अपने चंगुल में फँसाना। ४. कौर। ग्रास। ५. ग्रहण। ६. फलित ज्योति में दस प्रकार के ग्रहणों में से एक खंड ग्रहण जिसके फलस्वरूप अभिमानियों का पतन या नाश होता हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
ग्रसना  : स० [सं० ग्रसन] १. इस प्रकार किसीको पकड़ना कि वह जल्दी छूटने, निकलने या भागने न पावे। अच्छी तरह से दबाते हुए पकड़ना। २. काम निकालने के लिए बहुत तंग करना या पीछे पड़ना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ