तरस्/taras
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

तरस्  : पुं० [सं०√तृ (तरना)+असुन्] १. बल। शक्ति। २. तेजी। वेग। ३. बीमारी। रोग। ४. तट। किनारा। ५. वानर। बन्दर।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तरस्वान्(स्वत्)  : वि० [सं० तरस+मतुप्] १. जिसकी गति बहुत अधिक या तीव्र हो। २. वीर। बहादुर। साहसी। पुं० १. वायु। २. गरुड़। ३. शिव।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तरस्वी(स्विन्)  : वि० [सं० तरस+विनि]=तरस्वान्।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ