तिड़/tid
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

तिड़  : पुं० [?] पक्ष। (डि०)(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिड़लना  : स० [?] खींचना। उदाहरण–जनि अनुरागे पाछ धरि पेललि कर धरि काम तिकड़ी।–विद्यापति।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिड़ी  : स्त्री० [सं० त्रि=तीन] ताश का वह पत्ता जिन पर तीन बूटियाँ बनी होती है। तिक्की। वि० [सं० तिर्यक् ?] (व्यक्ति) जो कहीं से खिसक, टल या हट गया हो। (बाजारू) जैसे–मुझे देखते ही वहाँ से तिड़ी हो गया।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिड़ी-बिड़ी  : वि०=तितर-बितर (दे०)।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ