तुरंग/turang
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

तुरंग  : वि० [सं० तुर√गम् (जाना)+ख, मुम्] जल्दी करनेवाला। पुं० १. घोड़ा। २. चित्त या मन जो बहुत जल्दी हर जगह पहुँच सकता है। ३. सात की संख्या।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंगक  : पुं० [सं० तुरंग√कै (शब्द करना)+क] बड़ी तोरी (फल)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंग-गौड़  : पुं० [सं० कर्म० स० ?] संगीत में गौड़ राग का एक भेद।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंग-द्वेषिणी  : स्त्री० [सं० तुरंग√द्विष् (द्वेष करना)+णिनि=ङीप्] भैंस। महिषी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंगप्रिय  : पुं० [ष० त०] जौ। यव।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंगम  : वि० [सं० तुर√गम् (जाना) खच्, मुम्] जल्दी चलनेवाला। पुं० १. घोड़ा। २. चित्त। मन। ३. एक वर्ण-वृत्त जिसके प्रत्येक चरण में दो नगण और दो गुरु होते हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंगमी(मिन्)  : पुं० [सं० तुरङम+इनि] अश्वारोही। घुड़सवार।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंग-वक्त्र  : वि० [ब० स०] जिसका मुँह घोड़े के मुँह की तरह लंबा हो। पुं० किन्नर।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंग-वदन  : पुं० [ब० स०] किन्नर।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंग-शाला  : स्त्री० [ष० त०] घुड़सवार। अस्तबल।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंगारि  : पुं० [तुरंग-अरि, ष० त०] १. कनेर। करवीर। २. भैंसा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंगिका  : स्त्री० [सं० तुरंग+ठन्-इक] देवदाली। घघरबेल।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तुरंगी  : स्त्री० [सं० तुरंग+अच्-ङीष्] अश्वगंधा। असगंध।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ