तृण-स्पर्श-परीषह/trn-sparsh-pareeshah
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

तृण-स्पर्श-परीषह  : पुं० [ष० त०] दभादि कठोर तृणों को बिछाकर उन पर सोने का व्रत। (जैन)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ