बंध्या/bandhya
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बंध्या  : स्त्री० [सं० बंध्य+टाप्] १. स्त्री या मादा प्राणी जिसे संतान न होती हो। बाँझ। पद—बंध्या पुत्र। (देखें)। २. योनि का एक रोग। ३. एक गंध-द्रव्य।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बंध्या-कर्कोटकी  : स्त्री० [सं० ष० त०] कड़वी ककड़ी। बाँझ-ककोड़ा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बंध्यापन  : पुं०=बाँझपन।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बंध्यापुत्र  : पुं० [सं० ष० त०] १. बाँझ स्त्री का पुत्र अर्थात् ऐसा अनहोना व्यक्ति जो कभी अस्तित्व में न आ सकता हो। २. लाक्षणिक अर्थ में कोई ऐसी चीज या बात जो बंध्या के पुत्र के समान अनहोनी हो।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बंध्यासुत  : पुं० [ष० त०] बंध्यासुत।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ