बंध-पत्र/bandh-patr
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बंध-पत्र  : पुं० [सं० ष० त०] १. विधिक दृष्टि से मान्य वह पत्र जिस पर हस्ताक्षर करनेवाला व्यक्ति अपने आपको कोई काम करने के लिए प्रतिज्ञा बद्ध करता है। जैसे—नियत काल तक कोई काम या नौकरी करते रहने, नियत समय पर कहीं उपस्थित होने या कुछ धन देने का बंध-पत्र। २. एक प्रकार का सार्वजनिक ऋण-पत्र जिसमे निश्चित समय के अन्दर कुछ विशिष्ट नियमों या शर्तों के अनुसार लिया हुआ ऋण चुकाने की प्रतिज्ञा होती है। (बांड)। विशेष—अंतिम प्रकार का बंध-पत्र राज्यों नगर-निगमों और बड़ी-बड़ी व्यापारिक संस्थाओं के द्वारा प्रचलित होते हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ