बराव/baraav
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बराव  : पुं० [हिं० बराना+आव (प्रत्यय)] बराने अर्थात् बचकर रहने की क्रिया या भाव। परहेज। जैसे—घर में किसी को चेचक निकलने पर कई तरह के बराव करने पड़ते हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बरावदार  : वि० [हिं०+फा०] जिसमें भराव हो। जैसे—भरावदार कंगन।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ