बहुक-वाद/bahuk-vaad
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बहुक-वाद  : पुं० [सं० ष० त०] [वि० बहुकवादी] दर्शन में, वह विचार-प्रणाली जिसमें किसी बात या वस्तु के एक की जगह अनेक या बहुत से मूल कारण या सिद्धान्त माने जाते हैं। ‘अद्वैतवाद’ का विपर्याय। बहुत्ववाद (प्लूरलिज़्म)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ