बुद्घ/budgh
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बुद्घ  : वि० [सं० बुध् (ज्ञान करना)+क्त] १. जो जागा हुआ हो। जागरित। २. ज्ञान-सम्पन्न। ज्ञानी। ३. पंडित। पुं० शाक्य वंशीय राजा शुद्धोदन के पुत्र और बौद्ध धर्म के प्रवर्तक सिद्धार्थ गौतम का प्रचलित और प्रसिद्ध नाम (जन्म ई० पू० ५६६ ? मृत्यु ई० पू० ४८३ ?)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बुद्घिमान्  : वि० [सं० बुद्धि+ मतुप, नुम्, दीर्घ] जिसकी बुद्धि बहुत प्रखर हो। जो बहुत समझदार हो। अक्लमंद। जिसमें अच्छी और यथेष्ट बुद्धि हो। जो सोच-समझकर कोई काम करता अथवा किसी काम में हाथ डालता हो।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बुद्घिवंत  : वि०=बुद्धिमान्।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ