बेंग/beng
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बेग  : पुं० [अ० बैग] कपड़े, चमड़े, प्लस्टिक आदि लचीले पदार्थों का कोई ऐसा थैला जिसमें चीजें रखी जाती हों और जिसका मुँह ऊपर से बंद किया जा सकता हो। थैला। पुं० [तृ०] [स्त्री० बेगम] १. अमीर। धनवान्। २. नेता। सरदार। ३. मुगलों का अल्ल। (यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)पुं०=वेग। कि० वि० वेगपूर्वक। जल्दी से। (यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगड़ी  : पुं० [देश०] १. हीरा काटनेवाला कारीगर। हीरा तराश। २. जौहरी। ३. नगीने बनानेवाला कारीगर। हक्काक।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगती  : स्त्री० [देश०] एक प्रकार की मछली।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगना  : अ० [हिं० वेग] १. वेगपूर्वक कोई काम करना। २. जल्दी करना या मचाना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगम  : स्त्री० [तु० बेग का स्त्री०] [बहु० बेगमात] १. भले घर की स्त्री। महिला। २. किसी बड़े नवाब, बादशाह या सरदार की पत्नी। ३. ताश का वह पत्ता जिस पर रानी या स्त्री का चित्र बना रहता है।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगम-फूली  : पुं० [तु० बेगम हिं० फूल+ई (प्रत्य०)] एक प्रकार का बढ़िया आम।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगम-बेलिया  : पुं० [अ० ब्रिगनोलिया] एक प्रकार की लता जिसमें कई रंगों के फूल लगते हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगमा  : स्त्री० ‘हिं० ‘बेगम’ का सम्बोधन कारक में रूप।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगमी  : वि० [तु० बेगम+ई (प्रत्य०)] १. बेगम-संबंधी। बेगम का। २० बेगमों के लिए उपयुक्त अर्थात् उत्तम। बहुत बढ़िया। वि० [फा० बे+अ० गमी] निश्चितता। बेफिकी। पुं० १. एक प्रकार का बढ़िया कपूरी पान। २. एक प्रकार का बढ़िया चावल। ३. एक प्रकार का पनीर जिसमें नमक कम होता है।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगर  : अव्य०=बगैर। (यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगरज  : वि० [फा० बे+अ० ग़रज] [भाव० बेगरजी] जिसे कोई गरज या परवा न हो। कि० वि० बिना किसी गरज। प्रयोजन या मतलब के। निःस्वार्थ रूप से।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगरजी  : स्त्री० [फा० बे+अ० ग़रज+ई (प्रत्य)] बेरगज होने की अवस्था या भाव। (यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)वि०=बेगरज। जैसे—बेगरजी नौकर, बेगरजी सैंया।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगरा  : वि० [?] १. अलग। २. दूर का। अव्य० दूर।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगल  : अव्य०=बैगर।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगला  : वि०, अव्य०=बेगरा।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगवती  : स्त्री, [सं० वेग+मतुप्, म=व, ङीष्] एक प्रकार का वर्णा-र्द्धवृत्त जिसके विषमपादों में ३ सगण, १ गुरु और समपादों में ३ भगड़ और २ गुरु होते हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगसर  : पुं० [सं० वेद√सृ (जाना)+अच्]। खच्चर। (डिं०)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगा  : पु० [?] आत्मीय। ‘पराया’ का विपर्याय। उदा०—वेगा० कै मुदई मिलत।—घाघ।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगानगी  : स्त्री० [फा०] १. बेगाना होने की अवस्था या परायापन। २. अपरिचय।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगाना  : वि० [फा० बेगाना] १. जो अपना न हो। ग़ैर। पराया। २. जिससे आत्मीयता पूर्ण जान-पहचान, परिचय या सम्बन्ध न हो। ३. जो किसी काम या बात से अनजान या अपरिचित हो। ना-बाकिफ।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगार  : स्त्री० [फा०] १. वह काम जो किसी से जबरदस्ती और बिना कुछ अथवा उचित पारिश्रमिक दिये कराया जाय। २. उक्त के आधार पर बिना किसी पारिश्रमिक या पुरस्कार की संभावना के चलता किया जानेवाला काम। मुहा०—बेगार टालना=बिना चित्त लगाये कोई काम यों ही चलता करना। पीछा छुड़ाने के लिए कोई काम जैसे—तैसे पूरा करना। ३. ऐसा व्यर्थ और झगड़े का काम जिसका कोई अच्छा फल न हो। उदा०—नाहि तो भव बेगारि महँ परिहौ छूटत अति कठिनाई रे।—तुलसी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगारी  : पुं० [फा०] १. वह मजदूर जिसमें बिना मजदूरी दिये जबरदस्ती का लिया जा। बेगार में काम करनेवाला आदमी। कि० प्र०—पकड़ना। २. मन लगाकर काम न करनेवाला। काम चलता करनेवाला। स्त्री०=बेगार।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगि  : वि० [सं० वेग] १. जल्दी से। शीघ्रतापूर्वक। २. चटपट। तुरंत।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगुन  : पुं०=बैंगन। वि०=विगुण (गुण रहित)।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगुनाह  : वि० [फा०] [भाव० बेगुनाही] १. जिसने कोई गुनाह न किया हो। जिसने कोई पाप न किया हो। निष्पाप। २. जिसने कोई अपराध न किया। निरपराध।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगुनी  : स्त्री० [देश०] एक प्रकार की सुराही। वि०=विगुण (गुण रहित)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगैरत  : वि० [फा० बे०+अ० गैरत] [भाव० बेगैरती] निर्लज्ज।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बेगना  : पुं० बैगनी (पकवान)।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ